Hot Masala Board - Free Indian Sex Stories & Indian Porn Videos. Nude Indian Actresses Pictures, Masala Movies, Indian Masala Clips. Enjoy.

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator


Go Back   Hot Masala Board - Free Indian Sex Stories & Indian Porn Videos. Nude Indian Actresses Pictures, Masala Movies, Indian Masala Clips. Enjoy. > Hindi Sex Stories - Sexy Stories in Hindi Fonts !!!

Reply
 
Thread Tools Display Modes
  #1  
Old 06-18-2013, 06:36 AM
maleescortdelhincr maleescortdelhincr is offline
Member
 
Join Date: May 2013
Posts: 65
Default सेक्सी जुल्म...

नमस्कार दोस्तों...
आपका प्यारा फिर से आ चूका ह क नयी कहानी लेकर.
यह कहानी एक जमींदार के जुल्म से सम्बंधित है...
आइये कहानी का मजा लें.
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #2  
Old 06-18-2013, 06:41 AM
maleescortdelhincr maleescortdelhincr is offline
Member
 
Join Date: May 2013
Posts: 65
Default सेक्सी जुल्म...

किसी शायर ने क्या खूब कहा है



सोचो तो बड़ी बात है तमीज़ जिस्म की,
वरना तो ये सिर्फ़ आग बुझाने के लिए हैं ......




यही सोचती वो खामोशी से आगे बढ़ी. ये बात कितनी सच थी इस बात का अंदाज़ा
उसको बहुत अच्छी तरह से हो गया था. हाथ में चाइ की ट्रे लिए वो ठाकुर के
कमरे की तरफ बढ़ी पर ये ट्रे पर रखी चाइ तो सिर्फ़ एक बहाना थी. असल में तो
वो ठाकुर को अपना जिस्म परोसने जा रही थी.
ये किस्सा ऐसी ही जाने
कब्से चला आ रहा था. वो रोज़ रात को 9 बजे ठाकुर को चाइ देने के बहाने उसके
कमरे में जाती. चाइ को वॉश बेसिन में गिराकर कप को खाली कर देती जिससे
देखने वाले को लगे के चाइ ठाकुर ने पी ली, और फिर ठाकुर को अपना जिस्म
परोसती और 15 मिनट बाद कमरे से बाहर आ जाती. यूँ तो ये चाइ का नाटक ज़रूरी
नही था क्यूंकी रात के 9 बजने तक हवेली में रहने वाला हर कोई अपने कमरे में
बंद हो जाता था और अगर वो यूँ भी ठाकुर के कमरे में चली जाती तो ना कोई
देखता ना सवाल करता पर फिर भी वो रोज़ाना चाइ लेकर ही जाती थी. या तो इसको
शरम कह लो या बस अपने दिल को बहलाने का एक बहाना, पर ट्रे में चाइ रोज़ाना
होती थी.

रोज़ की तरह आज भी उसने ठाकुर के कमरे पर हल्की सी
दस्तक दी और बिना जवाब का इंतेज़ार किए अंदर दाखिल हो गयी. कमरे में कोई
नही था पर बाथरूम से शवर की आवाज़ आ रही थी. वो समझ गयी के ठाकुर नहा रहा
था. ट्रे टेबल पर रखी और कप उठाकर रोज़ाना की तरह बाथरूम की तरफ बढ़ी.


बाथरूम का दरवाज़ा खुला हुआ था. वो दरवाज़े के पास पहुँची तो अंदर ठाकुर
शवर के नीचे पूरा नंगा खड़ा हुआ था. उसने ठाकुर पर एक नज़र डाली और ठाकुर
की नज़र उसपर पड़ी. ठाकुर के चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कान आई और उसे देखकर
अपने लंड धीरे धीरे हिलाते हुए उसको बिस्तर की तरफ जाने का इशारा किया.


हाथ में पकड़े कप से उसने चाइ वहीं वॉश बेसिन में गिराई और फिर वापिस कमरे
में आ गयी. कमरे में आकर कप वापिस ट्रे पर रखा और चुप चाप वहीं बिस्तर के
किनारे खड़ी हो गयी.

कुच्छ पल बाद ही ठाकुर भी बाथरूम से नंगा ही
बाहर आ गया. एक पल के लिए ठाकुर ने उसको देखा और फिर उसकी टाँगो की तरफ
नज़र डाली. वो इशारा समझ गयी और चुप चाप अपनी कमीज़ उपेर उठाकर सलवार का
नाडा खोलने लगी.

जब तक सलवार का नाडा खुलता, ठाकुर उसके पिछे आ
चुका था. सलवार ढीली होते ही पिछे से ठाकुर ने उसकी सलवार को पकड़कर हल्का
सा नीचे खींच दिया और उसकी गांद को नंगा कर दिया. कमरे में चल रहे ए.सी. की
ठंडी हवा और ठाकुर का गीला हाथ उसकी नंगी गांद में एक ठंडक की सिहरन दौड़ा
गया. ठाकुर थोडा और नज़दीक आया तो खड़ा लंड उसकी गांद से रगड़ने लगा. आगे
क्या करना है वो जानती थी और अपने हाथ बिस्तर पर रखकर झुक गयी.


पीछे से ठाकुर ने अपना लंड निशाने पर लगाया और धीरे धीरे पूरा का पूरा उसकी
चूत में दाखिल कर दिया. लंड के पूरा अंदर होते ही खुद उसके मुँह से भी एक
आह निकल पड़ी. भले वो कितना अपने दिल को समझाती, कितना शराफ़त के पर्दों
में छुपाटी, वो ये बात अच्छी तरफ से जानती थी के खुद उसका जिस्म भी उसको
दॉखा दे जाता था. और आज भी कुच्छ ऐसा हो रहा था. ठाकुर पिछे से उसकी चूत पर
धक्के लगा रहा था और वो खुद भी बेहेक्ति जा रही थी.
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #3  
Old 06-18-2013, 06:44 AM
maleescortdelhincr maleescortdelhincr is offline
Member
 
Join Date: May 2013
Posts: 65
Default सेक्सी जुल्म...

एक नज़र उसने कमरे में फुल साइज़ मिरर पर डाली तो खुद उसका जोश दुगुना हो
गया. वो बिस्तर के किनारे पर हाथ रखे झुकी खड़ी थी. सलवार ढीली हल्की सी
नीचे हो रखी थी. बस इतनी ही के ठाकुर के लिए पिछे से लंड डालना मुमकिन हो
सके. उसको खुद अपने जिस्म का कोई हिस्सा शीशे में नज़र नही आ रहा था पर फिर
भी वो इस वक़्त एक तरह से पूरी नंगी थी.

ठाकुर की स्पीड बढ़ती
चली गयी और धक्को में दुगुनी रफ़्तार आ गयी. गांद पर पड़ रहे पुर ज़ोर के
धक्को के कारण उसके पावं लड़खड़ा गये और वो बिस्तर पर आगे की और हुई और
उल्टी लेट गयी. अब ठाकुर उसकी गांद पर बैठा था और उसके दोनो कूल्हो को
पकड़े पूरी जान से धक्के लगा रहा था. वो जानती थी के काम ख़तम होने वाला
है. तेज़ी से पड़ते धक्को ने उसकी चूत में जैसे आग सी लगा दी. दोनो हाथों
से उसके अपनी मुट्ठी में चादर को ज़ोर से पकड़ लिया और आँखें मूंद ली
...... और जैसी उसकी चूत से नदियाँ बह चली.

और ठीक उसी वक़्त
ठाकुर के मुँह से ज़ोर की आह निकली और लंड से निकला वीर्य उसकी चूत में
भरने लगा. वो खुद भी झाड़ रही थी, चूत की गर्मी पानी और वीर्य बनकर उसकी
चूत से बह रही थी.

थोड़ी देर बाद हाथ में ट्रे उठाए, अपने कपड़े
ठीक करती वो कमरे से बाहर निकली. उसपर एक नज़र डालते ही कोई भी कह सकता था
के वो अभी अभी चुद्कर आई है पर नज़र डालने वाला था ही कौन. चुप चाप वो किचन
तक पहुँची औट ट्रे वहीं छ्चोड़कर अपने कमरे की तरफ बढ़ चली. कमरे में जाकर
उसने एक छ्होटी सी गोली पानी के साथ खाई ताकि उसको ठाकुर का बच्चा ना ठहर
जाए और बिस्तर पर लेट गयी.

थोड़ी ही देर बाद पूरी हवेली एक चीख की आवाज़ से गूँज उठी.


नींद की उबासी लेती वो अपने कमरे की तरफ बढ़ी. ड्रॉयिंग रूम में घड़ी पर
नज़र डाली तो 9.15 बज रहे थे. यूँ तो वो अक्सर रात को देर तक जागती रहती थी
पर आज सुबह से ही काम इतना ज़्यादा था के हालत खराब हो रखी थी.
अपने
कमरे तक पहुँचकर वो अंदर दाखिल होने ही लगी थी के याद आया के दोपहर के
सुखाए कपड़े अभी भी हवेली के पिच्छले हिस्से में अब भी सूख रहे हैं. एक पल
को उसने सोचा के कपड़े सुबह जाकर ले आए पर वो जानती के बाहर आसमान पर बदल
छाए हुए हैं और रात को बारिश हो सकती थी. मौसम को कोस्ती वो हवेली के
पिच्छले दरवाज़े की तरफ चली.

बाहर आकर उसने एक एक करके अपने
सारे कपड़े उतारे. जहाँ वो खड़ी थी वहाँ से ठाकुर के कमरे की खिड़की सॉफ
नज़र आती थी. कमरे की लाइट जली हुई थी.

कपड़े लेकर वो वापिस अंदर
जाने लगी तो एक नज़र ठाकुर के खिड़की पर फिर पड़ी और कमरे के अंदर उसको
ठाकुर खड़े हुए दिखाई दिए. यूँ तो ये कोई ख़ास बात नही थी क्यूंकी कमरा खुद
उन्ही का था पर जिस बात ने उसके पैर रोक दिए वो थे उनके चेहरे पर आते जाते
हुए भाव. लग रहा था जैसे ख़ासी तकलीफ़ में है. कमरे की खिड़की ज़रा ऊँची
थी इसलिए उसको सिर्फ़ उनका सर और कंधे नज़र आ रहे थे जो नंगे थे पर इस बात
का अंदाज़ा उसको हो गया के ठाकुर साहब उपेर से नंगे थे. दूसरी बात जो उसको
थोड़ा अजीब लगी के उनका पूरा जिस्म हिल रहा था और चेहरे के भाव बदल रहे थे.

जाने क्या सोचकर वो खिड़की के थोड़ा नज़दीक आई. क्यूंकी खिड़की उसके
खुद की हाइट से ऊँची थी इसलिए जब वो खिड़की के पास आकर खड़ी हुई तो अंदर
कुच्छ भी दिखाई देना बंद हो गया. पर तभी उसके कानो में एक आवाज़ पड़ी जिससे
उसके दोनो कान खड़े हो गये. आवाज़ एक औरत की थी. थोड़ी देर खामोशी हुई और
फिर से वही एक औरत की आवाज़ आई, और फिर आई, और फिर आई और फिर रुक रुक कर
आवाज़ आती रही.

वो एक मिनट तक चुप चाप खड़ी वो आवाज़ सुनती रही.
एक पल के लिए उसके कदम वापिस हवेली के दरवाज़े की ओर बढ़े और फिर ना जाने
क्यूँ रुक गये.वो अच्छी तरह जानती थी के कमरे के अंदर क्या हो रहा है और एक
औरत इस तरह की आवाज़ किस वक़्त निकालती है. वो समझ गयी थी के क्यूँ ठाकुर
के कंधे नंगे थे और क्यूँ उनके चेहरे के भाव बदल रहे थे.

"अंदर कमरे में वो औरत ठाकुर साहब से चुद रही है"


ये ख्याल दिल में आया ही था के उसके जिस्म में एक सनसनी सी दौड़ गयी.
घुटने जैसे कमज़ोर पड़ने लगी और टाँगो के बीच की जगह अपने आप गीली सी होने
लगी. उसको खुद को याद नही था के वो आखरी बार कब चुदी थी. अक्सर रात को चूत
में एक अजीब बेचैनी सी होती और वो यूँ ही करवटें बदलती रहती थी और कभी कभी
तकिया उठाकर अपनी टाँगो के बीच दबा लेती थी. उसका एक हाथ अपने आप ही उसकी
चूत पर चला गया और उसने पास पड़ा एक पत्थर लुढ़का कर खिड़की के पास किया.
एक पावं उसने पत्थर पर रखा और धीरे से खिड़की से झाँक कर अंदर देखा.
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #4  
Old 06-18-2013, 06:48 AM
maleescortdelhincr maleescortdelhincr is offline
Member
 
Join Date: May 2013
Posts: 65
Default सेक्सी जुल्म...

अंदर का माजरा देखकर उसके मुँह से आह निकलते निकलते रह गयी. एक औरत बिस्तर
पर उल्टी पड़ी हुई थी और ठाकुर साहब नंगे उसके उपेर सवार थे. औरत ने अपने
चेहरा बिस्तर में घुसा रखा था और ठाकुर के हर धक्के पर घुटि घुटि सी आवाज़
निकलती थी. बिस्तर पर चादर बिछि होने के कारण और उस औरत के उल्टी होने से
वो चाहकर भी ये ने देख पाई के बिस्तर पर कौन चुद रही है. औरत ने कपड़े पूरे
पहेन रखे थे पर जिस तरह से ठाकुर साहब ने उसकी गांद पकड़ रखी थी और धक्के
लगा रहे थे वो समझ गयी के अंदर बिस्तर पर पड़ी औरत ने सलवार नीचे सरका रखी
थी और ठाकुर पिछे से चूत मार रहे थे.

वहीं खड़े खड़े उसने अपना
एक हाथ अपनी चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया और ध्यान से ठाकुर का नंगा जिस्म
देखने लगी. चौड़े कंधे, कसरती और तना हुआ शरीर, वो डैड दिए बिना ना रह सकी.
धीरे धीरे उसकी नज़र ठाकुर की टाँगो के बीच पहुँची और उसके दिल में चाह
उठी के एक बार ठाकुर का लंड दिखाई दे. पर वो तो उस औरत की गांद के अंदर
कहीं छुपा हुआ था. वो बाहर खड़ी बेसब्री से इंतेज़ार करने लगी के चुदाई का
खेल ख़तम हो और ठाकुर लंड बाहर निकले ताकि वो उसको लंड के दर्शन हो सकें.
ठाकुर का शानदार जिस्म देखकर उसके दिमाग़ में सिर्फ़ ठकुराइन के लिए अफ़सोस
और ठाकुर के लिए हमदर्दी आई.

इसी इंतेज़ार में वो बाहर खड़ी
चूत पर हाथ चला रही थी के ठाकुर ने एक झटका पूरे ज़ोर से मारा और बिस्तर पर
पड़ी औरत ने दर्द और मज़े के कारण एक पल के लिए अपना चेहरा उपेर किया.
बाहर खड़े उसका हाथ फ़ौरन चूत पर चलना बंद हो गया. उसको आँखें हैरत से
फेल्ती चली गयी. उसको यकीन नही हुआ के बिस्तर पर वही औरत है जो उसको एक पल
के लिए लगा के है. उसको यकीन था के उसकी आँखें धोखा खा रही है. उसने फिर
गौर से देखने की कोशिश में अपनी नज़र अंदर गढ़ाई पर नज़र ठाकुर की टाँगों
के बीच नही, उस औरत के चेहरे की तरफ थी.

अचानक उसको अपने पिछे
कुच्छ आवाज़ महसूस हुई. किसी के चलने की आवाज़ थी जो नज़दीक थी और वो समझ
गयी की कोई इसी तरफ आ रहा था. जल्दी से वो खिड़की से हटी और हवेली के
दरवाज़े की तरफ बढ़ी. दिमाग़ अब भी हैरत में था के क्या सच में ठाकुर के
बिस्तर पर वही औरत है जो उसको लगा के है? यही सोचती वो अपने कमरे तक पहुचि.



थोड़ी ही देर बाद पूरी हवेली एक चीख की आवाज़ से गूँज उठी.

"आअहह ... और ज़ोर से"


नीचे लेटी हुई मज़े में आहें भरते हुए बोली. तेजविंदर उसके उपेर लेटा हुआ
था. वो दोनो ही पूरी तरह नंगे थे. रेखा की दोनो टांगे हवा में, टाँगो के
बीच तेजविंदर, दोनो छातियाँ तेजविंदर के हाथों में और लंड चूत में तेज़ी से
अंदर बाहर हो रहा था.

रेखा की उमर 40 के पार थी, शकल सूरत भी
कोई ख़ास नही पर जिस्म ऐसा था के 20 साल की लड़की को मात दे जाए और यही वजह
थी के तेज हर रात उसी के पास खींचा चला आता था. यूँ तो बाज़ार में एक से
बढ़के एक हसीन थी पर रेखा को चोदने के बाज़ शायद ही कभी ऐसा हुआ था के तेज
किसी और रंडी के पास गया था.

"कमाल है तेरी चूत" वो पूरी जान से
धक्के मारता हुआ बोला "साला लंड घुसाओ तो ऐसा लगता है जैसे किसी 15-16 साल
की लड़की की चूत में लंड घुसाया हो"

"तो आपका लंड कौन सा कम है.
जो आपके नीचे से निकल गयी, कसम ख़ाके कहती हूँ के किसी और के सामने अपना
भोसड़ा खोलेगी नही" मुस्कुराते हुए रेखा ने जवाब दिया

"तुम तो खोलती हो" तेज ने उसको छेड़ते हुए कहा

"आप रोज़ रात आने का वादा कीजिए. कसम है मुझे अगर इस चूत की हवा भी किसी और लंड को लगे"

उसकी बात सुनकर तेज हल्का सा हसा और फिर पूरी जान से धक्के लगाने लगा

"आआहह ठाकुर साहब धीएरे ..... "रेखा की मुँह से निकला पर तेज नही रुका और
अगले 5 मिनिट तक उसने रेखा का जैसे बिस्तर पर पागल बना दिया. कभी चूचियाँ
दबाता, कभी चूस्ता, कभी काट लेता, कभी दोनो टांगे हवा में होती तो कभी
बिस्तर पर पर धक्को की तेज़ी में कोई कमी नही आई. आख़िर 5 मिनट बाद तेज तक
कर साँस लेने के लिए रुका. वो रुका तो रेखा की जान में भी जान आई.

"ठाकुर साहब" वो हाँफती हुई बोली "मेरी चूत क्या आज रात गाओं छ्चोड़कर जा रही है जो ऐसे चोद रहे हो"

तेज हस्ते हुए अपने माथे से पसीना पोंच्छने लगा

"थक गये हैं" रेखा ने प्यार से बालों में हाथ फिराते हुए कहा "मैं उपेर आ जाऊं?"

"रंडी होकर ठाकुरों के उपेर आने का सपना देख रही हो?" तेज ने कहा


ये बात जैसे रेखा के दिल में नश्तर की तरह चुध गयी. उसने तो प्यार में आकर
तेज से उपेर आने को कही थी ताकि वो आराम से नीचे लेट जाए पर उसके बदले में
जब तेज का का जवाब सुना तो एकदम गुस्से में किलस गयी.
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #5  
Old 06-18-2013, 06:50 AM
sks12 sks12 is offline
Junior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 20
Default सेक्सी जुल्म...

keep updating
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #6  
Old 06-18-2013, 06:52 AM
maleescortdelhincr maleescortdelhincr is offline
Member
 
Join Date: May 2013
Posts: 65
Default सेक्सी जुल्म...

रंडी हूँ तो क्या हुआ" वो गुस्से में बोल पड़ी "कम से कम रोज़ रात को अपने
जिस्म का सौदा करके कमाती हूँ तब 2 वक़्त की रोटी खाती हूँ. बाप के पैसे पे
अययाशी नही करती"

"क्या बोली तू?" तेज उसपे उपेर से हटकर बिस्तर पे बैठ गया


"जो सुना वही बोल रही हूँ" रेखा भी उठकर बैठी और चादर अपने नंगे जिस्म पर
लपेटने लगी "मुझे ये याद दिलाने से पहले के मैं एक रंडी हूँ ये सोच लिया
करो के मैं फिर भी आपसे बेहतर हूँ. कम से कम मेरे पास अपना ये एक मकान है.
आपके पास क्या है? बाप की हवेली और ज़मीन और बड़े भाई के फेंके हुए कुच्छ
पैसे जिनपर आप पल रहे हो?"

एक तो शराब का नशा दूसरे रेखा के मुँह से कड़वी सच्चाई. तेज का हाथ उठा और रेखा के मुँह पर पाँचो उंगलियाँ छप गयी.


"थप्पड़ मारता है" रेखा भी गुस्से में आग बाबूला हो उठी "बाप और भाई के
टुकड़ो पर कुत्ते की तरह पल रहा है और मुझे थप्पड़ मारता है"

इस बात ने आग में घी का काम किया और तेज के गुस्से का ठिकाना नही रहा.

थोड़ी देर बाद जब अपनी कार में बैठा हवेली की तरफ जा रहा था. पीछे रेखा का
वो मार मारकर बुरा हाल करके आया था. गुस्से में उसका दिमाग़ भन्ना चुका था
और उसने फ़ैसला कर लिया था के इसी वक़्त अपने पिता से जाकर बात करेगा.
थोड़ी देर बाद वो हवेली में दाखिल हुआ. दरवाजे के पास ही उसको हवेली का पुराना नौकर भूषण मिल गया.

"पिताजी कहाँ हैं?" उसने भूषण से पुछा
"जी अपने कमरे में" भूषण ने कहा

कुच्छ देर बाद तेज अपने पिता ठाकुर शौर्या सिंग के कमरे में खड़ा था. ठाकुर साहब अपने कमरे की चादर ठीक कर रहे थे.

"क्या मतलब के तुम्हें अपना हिस्सा चाहिए?" चादर ठीक करते करते उन्होने तेज से पुछा

"मतलब के मुझे ज़मीन वामीन में कोई दिलचस्पी नही. मेरे हिस्से का जितना
बनता है आप मुझसे कॅश में दे दीजिए" तेज अब भी शराब के नशे में था.
"ताकि तुम उसको रंडियों के यहाँ उड़ाते फ़िरो? बिल्कुल नही" ठाकुर साहब ने जवाब दिया.

तेज के गुस्से का पारा आसमान च्छुने लगा.



थोड़ी ही देर बाद पूरी हवेली एक चीख की आवाज़ से गूँज उठी.


"सुनो ना" रूपाली ने पिछे से पुरुषोत्तम के गले में अपनी बाहें डाली
"ह्म्*म्म्म ... कहो" पुरुषोत्तम अपनी टेबल पर सामने रखे कुच्छ पेपर्स में बिज़ी था

रूपाली ने धीरे से पुरुषोत्तम के गले पर किस किया और उसके कान को अपने दांतो के बीच लेकर बाइट किया.

"आउच" पुरुषोत्तम ने अपले गले को झटका " क्या करती हो"
"वही जो के आक्च्युयली तुम्हें शुरू करना चाहिए पर उल्टा हो रहा है. तुम्हारा काम मैं कर रही हूँ और मेरे डाइलॉग तुम बोल रहे हो"

"शाम के 8 बज रहे हैं. थोड़ी देर में डिन्नर लग जाएगा. ये कोई टाइम है भला?"
"प्यार का कोई टाइम नही होता" रूपाली पिछे से पुरुषोत्तम के साथ चिपक गयी और अपनी चूचियाँ उसके कंधो पर रगड़ने लगी.

"नही नही नही ..... " पुरुषोत्तम ने उसकी बाहें अपने गले से निकाली और फिर पेपर्स में सर झुका कर अपना काम करने लगा,


रूपाली ने उसके गले से बाहें निकाली और थोड़ा पिछे होकर अपना सारी खोलनी
शुरू कर दी. उसने नीले रंग की सारी प्लेन पहेन रखी थी. सारी उतारकर वहीं
ज़मीन पर गिरा दी और एक ब्रा और ब्लाउस में पुरुषोत्तम के सामने आ खड़ी
हुई.

पुरुषोत्तम ने नज़र उठाकर अपनी बीवी की तरफ देखा. नीले रंग
का ब्लाउस और पेटिकट उसके गोरे रंग के साथ जैसे ग़ज़ब ढा रहा था. 36 साइज़
की बड़ी बड़ी चूचियाँ ब्लाउस फाड़ कर बाहर आने को उतावली हो रही थी. नीचे
गोरा मखमली पेट जिसपर चरबी का निशान तक नही थी. लंबी सुडोल टांगे और किसी
पहाड़ की तरफ शानदार तरीके से उठी हुई गांद. सामने अगर ऐसी औरत आधी नंगी
चुदवाने के लिए खड़ी हो तो किसी नमार्द का भी लंड जोश मार जाए, पुरुषोत्तम
तो खैर उसका पति था.

वो रूपाली की ओर देखकर मुस्कुराया और
रूपाली उसकी और. पुरुषोत्तम एक कुर्सी पर बैठा हुआ था और रूपाली ठीक उसके
सामने खड़ी थी. उसने आगे बढ़कर उसके नंगे पेट पर अपने होंठ टीका दिए और
पेटिकट का नाडा खोल दिया.

रूपाली ने नीचे पॅंटी नही पहेन रखी थी.
पेटिकट सरसारा कर उसके कदमो में जा गिरा और वो कमर के नीचे से नंगी हो
गयी. जिस्म पर अब सिर्फ़ एक ब्लाउस बचा था.

पुरुषोत्तम ने एक
नज़र अपनी बीवी की नंगी चूत पर दौड़ाई. वो पहले चूत क्लीन शेव रखती थी पर
पुरुषोत्तम के कहने पर अब हल्के हल्के से बॉल रखती थी. पुरुषोत्तम ने धीरे
से अपने एक हाथ रूपाली की चूत पर फेरा और दूसरे हाथ से उसकी गांद सहलाने
लगा.

रूपाली से एक हल्का सा टच भी बर्दाश्त ना हुआ और वो फ़ौरन
घुटनो पर जा बैठी. पुरुषोत्तम एक कुर्सी पर बैठा हुआ था. रूपाली ने जल्दी
जल्दी उसकी पेंट के हुक्स खोलने शुरू कर दिए. आगे जो होने वाला था वो
पुरुषोत्तम जानता था. उसने अपना जिस्म कुर्सी पर ढीला छ्चोड़ दिया और आँखें
बंद करके बैठ गया.

रूपाली ने उसकी पेंट खोलकर लंड बाहर निकाला
और धीरे धीरे सहलाने लगी. मुरझाए हुए लंड में हल्का सा हाथ फिराते ही जान
आने लगी और उसका साइज़ बढ़ने लगा. रूपाली आगे को झुकी और अपनी जीब लंड पर
फिराने लगी. उसकी जीभ लंड पर ऐसे हिल रही थी जैसे कोई बिल्ली दूध पी रही
हो. नीचे एक हाथ लंड को हिला रहा था और दूसरे पुरुषोत्तम के टटटे सहला रहा
था.
"आअहह रूपाली" जैसे ही रूपाली ने उसका लंड अपने मुँह में भरा, पुरुषोत्तम के मुँह से आह निकल पड़ी.


रूपाली ने पूरा लंड अपने मुँह में लिया और टटटे सहलाते हुए लंड को चूसना
शुरू कर दिया. उसका सर लंड पर तेज़ी के साथ उपेर नीचे होने लगा. मुश्किल से
एक मिनट भी नही हुआ था के पुरुषोत्तम का जिस्म एक पल के लिए काँप उठा और
इससे पहले के रूपाली कुच्छ समझ या कर पाती, उसके मुँह में वीर्य की एक धार आ
लगी.

"रूको" रूपाली ने लंड फ़ौरन अपने मुँह से बाहर निकाला पर
देर हो चुकी थी. कुच्छ वीर्य उसके मुँह में और कुच्छ लंड बाहर निकलते ही
उसके चेहरा और ब्लाउस पर आ गिरा.

"आइ आम सॉरी" पुरुषोत्तम ने
आँखें खोली और रूपाली की तरफ देखा. रूपाली ने कहा कुच्छ नही पर जिस तरह से
वो देख रही थी वही पुरुषोत्तम के लिए काफ़ी था.

"आइ आम सॉरी मैं रोक नही पाया. वी कॅन डू इट अगेन इन दा नाइट" वो बोला


रूपाली ने उठकर टेबल पर रखे पुरुषोत्तम के रुमाल से अपने मुँह और चेहरे पर
गिरे वीर्य को सॉफ किया, पेटिकट कमर पर बँधा और सारी पहेन्ने लगी. तभी
उसको अपने ब्लाउस पर पड़े पुरुषोत्तम के वीर्य के धब्बे नज़र आए इसलिए उसने
सारी और ब्लाउस उतारकर एक तरफ फेंक दिया और एक गुलाबी रंग का सलवार सूट
निकालकर पहेन लिया.

"हां ताकि रात को तुम फिर एक मिनट में निपट जाओ और मैं अनसॅटिस्फाइड बिस्तर पर रात भर पड़ी रहूं. है ना?"
"रूपाली" पुरुषोत्तम थोड़े ज़ोर से बोला

"चिल्लइए मत" रूपाली ने भी वैसे ही जवाब दिया "अपनी नमार्दानगी को अपनी आवाज़ के शोर में दबाने की कोशिश मत कीजिए."

"इतनी गर्मी है अगर जिस्म में तो एक सांड़ लाकर बांड दूँ? फिर भी अगर
टाँगो के बीच की आग ठंडी ना हो तो कहीं किसी और के पास पहुँच जाओ"


पुरुषोत्तम ने कहा और गुस्से में पैर पटकता कमरे से बाहर निकल गया. वो
हवेली से बाहर आया और अपनी कार निकालकर गुस्से में बाहर चला आया. रास्ते
में वो एक शराब की दुकान पर रुका, एक बॉटल खरीदी और गाओं से बाहर नहर के
किनारे आ गया. उसने कार एक अंधेरी जगह पर रोकी और बाहर कार के बोनेट पर बैठ
कर दारू पीने लगा.

वो खुद जानता था के बिस्तर पर वो अपनी बीवी
को खुश करने में नाकाम है, उसको प्रिमेच्यूर ईजॅक्युलेशन की बीमारी थी और
अक्सर रूपाली से पहले ही उसका काम ख़तम हो जाता था. कई बार उसने सोचा के
किसी डॉक्टर के पास जाए पर वो इस इलाक़े के ठाकुर खानदान का सबसे बड़ा
लड़का था. अगर बात फैल जाती के ठाकुर पुरुषोत्तम को नमार्दानगी की बीमारी
है तो वो कहीं मुँह दिखाने लायक ना रहता. इसी डर से वो कभी किसी डॉक्टर के
पास भी ना जा सका.

कोई एक घंटे बाद वो शराब के नशे में धुत
वापिस हवेली पहुँचा. कार बाहर खड़ी करके वो हवेली में दाखिल हुआ और अपने
कमरे की तरफ बढ़ा. उसका कमरा फर्स्ट फ्लोर पर था. वो किसी तरह सीढ़ियाँ
चढ़कर उपेर पहुँचा पर फिर नौकर को डिन्नर कमरे में ही सर्व करने के बोलने
के इरादे से वो रुका और फिर नीचे किचन की तरफ बढ़ चला.

अचानक ही
पवर कट हुआ और पूरी हवेली अंधेरे में डूब गयी. पुरुषोत्तम ध्यान से
सीढ़ियाँ उतर रहा था. ड्रॉयिंग हॉल में पूरा अंधेरा था. अचानक उसने देखा था
हॉल के दूसरी तरफ उसके पिता के कमरे का दरवाज़ा खुला और एक औरत कमरे से
बाहर निकली. अंधेरा होने की वजह से सिर्फ़ अंदर ठाकुर के कमरे से आती हल्की
रोशनी में वो औरत उसको नज़र आई. उस औरत का चेहरा उसको अंधेरे की वजह से
दिखाई नही दिया.

"अर्रे सुनो" कहते हुए ठाकुर साहब ने हल्का सा
दरवाज़ा खोला. हल्की सी रोशनी में पुरुषोत्तम को अंदाज़ा हो गया था के उसका
बाप सिर्फ़ एक अंडरवेर में है.

"तुम ये भूल गयी थी कल. ये ले जाओ" कहते हुए उसके बाप ने उस औरत के हाथ में एक ब्रा थमा दी.


जहाँ पुरुषोत्तम खड़ा था वहाँ से उसको उस औरत के पीठ नज़र आ रही थी. ठाकुर
के कमरे का दरवाज़ा बंद होते ही फिर अंधेरा हो गया. बाहर निकली औरत कौन थी
ये तो वो देख नही सका पर कमरे से आती हल्की सी रोशनी में उसने ये ज़रूर
देख लिया था के उसने एक गुलाबी रंग का सलवार कमीज़ पहेन रखा था और उस सलवार
कमीज़ को पुरुषोत्तम बहुत खूब पहचानता था.

वो औरत कमरे से निकलकर किचन की तरफ बढ़ चली.

थोड़ी ही देर बाद पूरी हवेली एक चीख की आवाज़ से गूँज उठी.

भूषण अपने कमरे में बैठा हुआ था के टेबल पर रखी घंटी बज उठी. इसका मतलब सॉफ था. के ठाकुर साहब ने उसको याद किया है.


भूषण हवेली में पिच्छले 40 साल से नौकरी कर रहा था. उसकी उमर 70 के पार
थी. इससे पहले उसके पिता ठाकुर खानदान के खेत में पहरा दिया करते थे. बाद
में भूषण ने हवेली में काम करना शुरू कर दिया और फिर वहीं का होकर रह गया.
हवेली के बाहर कोने में एक छ्होटा सा कमरा उसका था जहाँ वो अकेला रहता था.


वो धीरे धीरे चलता हवेली में दाखिल हुआ और ठाकुर साहब के कमरे में पहुँचा.
अंदर ठाकुर और ठकुराइन दोनो ही कमरे में मौजूद थे. ठाकुर उस वक़्त बाथरूम
में थे और ठकुराइन सरिता देवी अपनी व्हील चेर पर बिस्तर के पास बैठी थी.

"हुकुम मालिक" भूषण ने कहा
"गाड़ी निकालो. अभी इसी वक़्त" ठाकुर ने बाथरूम के अंदर से कहा
भूषण ने एक नज़र सरिता देवी पर डाली और दूसरी नज़र घड़ी पर.


"रात के इस वक़्त कहाँ जाएँगे" उसने मंन ही मंन सोचा पर ये पुच्छने की
हिम्मत नही हुई. वो चुपचाप जी मालिक कहकर कमरे से बाहर निकल आया.
ये
कयि सालों का दस्तूर था के ठाकुर शौर्या सिंग के गाड़ी भूषण ही चलाता था.
वो खुद काफ़ी बुड्ढ़ा हो चुका था और नज़र भी काफ़ी कमज़ोर हो चली थी पर
ठाकुर साहब सिर्फ़ उसी की ड्राइविंग पर यकीन रखते थे.

धीरे धीरे
भूषण पार्किंग लॉट तक पहुँचा. कुल मिलकर वहाँ 10 गाड़ियाँ खड़ी थी, सब
इंपोर्टेड. वो ठाकुर साहब की मर्सिडीस तक गया और चाबी निकालने के लिए अपनी
जेब में हाथ डाला तो याद आया के चाबी खुद ठाकुर के पास ही थी. वो आज दिन
में गाड़ी कहीं खुद लेकर गये थे और तबसे चाभी उन्ही के पास थी. वो फिर
ठाकुर के कमरे की तरफ वापिस चला.
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #7  
Old 06-18-2013, 06:53 AM
bondjamesbond09 bondjamesbond09 is offline
Senior Member
 
Join Date: Aug 2011
Posts: 412
Default सेक्सी जुल्म...

here is the link of this story
friends Haweli2 by the_Vampire
http://www.exbii.com/showthread.php?t=1176357
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #8  
Old 06-18-2013, 06:55 AM
maleescortdelhincr maleescortdelhincr is offline
Member
 
Join Date: May 2013
Posts: 65
Default सेक्सी जुल्म...

हवेली के गेट के बाहर कॉरिडर में सरिता देवी हाथ में विस्की का ग्लास लिए
बैठी थी. ये हर शाम होता था. खाने के बाद ठकुराइन हाथ में शराब का ग्लास
लिए अपनी व्हील चेर को गेट के पास लाकर बैठ खुली हवा में बैठ जाती थी. जहाँ
तक भूषण को याद आता था, शराब की ये आदत ठकुराइन को उस आक्सिडेंट के बाद
पड़ी जब वो सीढ़ियों से गिर गयी थी और फिर कमर में चोट आ जाने की वजह से
कभी अपने पैरों पर खड़ी ना हो सकी. पिच्छले 15 साल से वो व्हील चेर पर ही
थी.

भूषण ठाकुर के कमरे के अंदर पहुँचा. ठाकुर अब भी बाथरूम के अंदर ही थे पर दरवाज़ा खुला हुआ था.

"मालिक" उसने ज़रा ऊँच आवाज़ में कहा
"गाड़ी निकाली?" ठाकुर की अंदर से ही आवाज़ आई.
"मालिक चाभी आपके पास है" भूषण ने कहा

"एक गाड़ी निकालने में इतना वक़्त लग रहा है? पहले याद नही आया था? चाभी
सामने टेबल पर रखी है. जल्दी से गाड़ी निकालो" ठाकुर ने अंदर से चिल्लाते
हुए कहा

कमरे में लगे फुल साइज़ मिरर में एक पल के लिए भूषण को
बाथरूम में खड़े ठाकुर साहब नज़र आए. वो बाथरूम में शीशे के सामने खड़े थे
वॉश बेसिन पर झुके खड़े थे.

भूषण फिर कमरे से बाहर निकला और कॉरिडर में आया ही था के एक कार हवेली के सामने आकर रुकी और उसमें से जै निकला.


जै ठाकुर साहब का भतीजा था, ठाकुर के सगे छ्होटे भाई का बेटा. उमर कोई 35
साल. जहाँ तक भूषण जानता था, उसके माँ बाप एक कार आक्सिडेंट में मर गये थे.
उसके बाद कुच्छ टाइम तक वो हवेली में ही रहा पर एक दिन किसी बात पर ठाकुर
ने उसको हवेली से निकाल फेंका और जायदाद में से एक छ्होटा सा हिस्सा उसको
दे दिया जो कि जै को लगता था के कम है जिसकी वजह से वो आज भी ठाकुर साहब से
साथ कोर्ट में केस लड़ रहा था.

"ताया जी कहाँ हैं?" जै ने कार से निकलते हुए सवाल भूषण और कॉरिडर में बैठी सरिता देवी, दोनो से पुछा.
"अपने कमरे में" जवाब भूषण ने दिया.


जै गुस्से में था ये उसके चेहरे से साफ नज़र आ रहा था. वो गुस्से में पावं
पटकता हवेली के अंदर चला गया और भूषण फिर गॅरेज की तरफ चला. उसने ठाकुर
साहब की मर्सिडीस निकाली और चलकर हवेली के गेट तक लाया और कार से बाहर
निकला.


तभी पूरी हवेली एक चीख की आवाज़ से गूँज उठी.


रात के तकरीबन 11 बज रहे थे जब इनस्पेक्टर मुनव्वर ख़ान की गाड़ी हवेली के
बाहर जा कर रुकी. उसके पिछे पोलीस की एक और जीप थी जिसमें 6 पोलिसेवाले और
मौजूद थे. वो फ़ौरन गाड़ी से बाहर निकला और हवेली के अंदर घुसा.


ड्रॉयिंग रूम में जैसे तूफान आया हुआ था. काफ़ी सारे लोग ड्रॉयिंग में
खड़े हुए थे जिनमें से कुच्छ एक दरवाज़े को तोड़ने की कोशिश कर रहे थे.

"क्या हो रहा है?" इनस्पेक्टर ने चिल्लाते हुए पुच्छे. उसके पिच्चे बाकी पोलिसेवाले भी हवेली में दाखिल हो चुके थे.

"तुझे किसने बुलाया बे?" दरवाज़ा तोड़ने की कोशिश कर रहे लोगों में से एक आगे आया जिसको इनस्पेक्टर पहचानता था. वो तेज था.
"मुझे एक फोन आया था के यहाँ बड़े ठाकुर का खून हो गया है" ख़ान ने जवाब दिया.
"ये हमारा घरेलू मामला है. चल बाहर निकल" कहता हुआ टेक उसकी तरफ आया.

ख़ान जानता था के ये होगा इसलिए अपने साथ जितने हो सके, पोलिसेवाले लाया था.

"ठाकुर साहब यहाँ एक खून हुआ है" ख़ान ने कहा "और ये घरेलू मामला नही है"
"तू जाता है या.....?" कहता हुआ तेज आगे बढ़ा ही था के ख़ान ने अपनी रेवोल्वेर उसकी तरफ तान दी.


"देखिए मैं जानता हूँ के दिस ईज़ ए डिफिकल्ट टाइम राइट नाउ पर मैं भी
सिर्फ़ अपना काम ही कर रहा हूँ. बेहतर ये है के आप प्लीज़ को-ऑपरेट करें
वरना मुझे ज़ोर ज़बरदस्ती करनी पड़ेगी"

तेज उसका इशारा समझ गया. ख़ान के पिछे 6 हथ्यार बंद पोलिसेवाले खड़े थे.
"तेज" व्हीलचार पर बैठी एक औरत ने कहा जो कि ख़ान जानता था के ठकुराइन सरिता देवी थी
तेज अपनी माँ का इशारा समझकर पिछे हो गया.

"कौन है कमरे के अंदर?" ख़ान ने पुछा

"जै" एक दूसरे आदमी ने जवाब दिया जिसको ख़ान ठाकुर के बड़े बेटे
पुरुषोत्तम सिंग के नाम से जानता था "साला बाबूजी पर हमला करके अंदर किचन
में जा छुपा है"
"और ठाकुर साहब?" ख़ान ने पुछा तो पुरुषोत्तम ने एक
कमरे की तरफ इशारा किया. ख़ान ने 2 पोलिसेवालो की तरफ देखा और उन्हें हाथ
के इशारे से कमरे में देखने को कहा.

वो खुद किचन के दरवाज़े तक पहुँचा. जै को वो खुद भी जानता था. ठाकुर साहब का भतीजा था वो.

"जै बाहर आ जाओ वरना मुझे दरवाज़ा तोड़ना पड़ेगा" ख़ान ने चिल्लाते हुए कहा
"ये लोग मार डालेंगे मुझे" अंदर से जै ने चिल्लाकर कहा "मैने कोई खून नही किया है"

"कोई कुच्छ नही करेगा ये मेरा वादा है. पोलीस यहाँ आ चुकी है. पर अगर तुम
बाहर नही आए तो मौका-ए-वारदात से भागने की कोशिश करने के जुर्म में मैं खुद
गोली मार सकता हूँ तुम्हें"
"मैं भाग कहाँ रहा हूँ" जै ने अंदर से कहा "मैं तो यहाँ किचन में बंद खड़ा हूँ साले. चाहूं भी तो नही भाग सकता"

"जानता हूँ पर मुझे तो तुम्हें गोली मारने के लिए कोई बहाना चाहिए ना. तो
तुम भाग रहे थे से अच्छा बहाना क्या है" ख़ान ने जवाब दिया
थोड़ी देर के लिए खामोशी च्छा गयी.

"कितने पोलिसेवाले हैं तुम्हारे साथ?" अंदर से जै ने पुछा.

"6 कॉन्स्टेबल्स और मुझे और मेरे ड्राइवर को मिलाके 8. बाहर आ जाओ. कोई
तुम पर हमला नही करेगा" ख़ान ने और अपने पिछे खड़े पुरुषोत्तम और जै को
आख़िरी से वॉर्निंग दी के कुच्छ करने की कोशिश ना करें.

तभी 2 पोलिसेवाले जो कमरे के अंदर गये थे बाहर आए.ख़ान ने उसकी तरफ देखा.
"अंदर बड़े ठाकुर हैं" एक ने कहा "मर चुके हैं"

इतना कहते ही चेर पर बैठी सरिता देवी फिर रोने लगी और तेज फिर से किचन की तरफ बढ़ा.
"प्लीज़ ठाकुर साहब" ख़ान ने उसको रोक दिया "लेट मी हॅंडल दिस"
"मैने कोई खून नही किया है. जब मैं आया तो वो ऑलरेडी मर चुके थे" अंदर से फिर जै चिल्लाया

"बाहर आ जाओ जै" ख़ान ने कहा "इसमें तुम्हारी ही भलाई है"
"ठीक है मैं बाहर आ रहा हूँ" जै ने कहा
कोई 3 मिनट बाद किचन का दरवाज़ा खुला और जै बाहर आया. वो पूरा खून में सना हुआ था और हाथ में एक बड़ा सा चाकू था.


उस पूरी रात और अगला पूरा दिन मुनव्वर ख़ान को बैठने का मौका नही मिला.
ठाकुर की लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए शहर भेज दिया गया था और खुद जै को भी
ठाकुर के खून के इंटेज़ाम में मुक़दमा होने तक शहर की ही एक जैल में शिफ्ट
कर दिया गया था. ठाकुर की मौत एक लंग पंक्चर होने की वजह से हुई थी. एक
स्क्रू ड्राइवर उनकी छाती में घुसाया गया था जिसने उनका राइट लंग पंक्चर
किया और जो की मौत की वजह बना.

केस का प्रोफाइल बड़ा था, खून एक
नामी ठाकुर का हुआ था जो इलाक़े का सबसे बड़ा रईस था और कई पोलिटिकल
कनेक्षन्स थे इसलिए खुद ख़ान भी जानता था के इस केस को सॉल्व करने के लिए
उसके पास वक़्त बहुत कम है. प्रेशर बढ़ेगा और अगर वो रिज़ल्ट्स ना दे पाया
तो केस किसी और को थमा दिया जाएगा.

ख़ान की उमर कोई 30 के आस
पास थी. उसका रेकॉर्ड क्लीन था और वो 6 महीने पहले तक एक टॉप कॉप माना जाता
था. 6 महीने पहले एक एनकाउंटर के दौरान क्रॉस फाइयर में उसकी गोली से एक
सब-इनस्पेक्टर की मौत हो गयी थी. पोलिसेवालो ने मामला बाहर नही आने दिया और
बात दबा दी गयी पर ख़ान को उठाकर इस छ्होटे से गाओं में डाल दिया.

वो पोलीस स्टेशन में बैठा सोच ही रहा था उसका मोबाइल बज उठा. नंबर अननोन था.

"ख़ान" उसने फोन उठाते हुए कहा
"हेलो इनस्पेक्टर" दूसरी तरफ से एक लड़की की आवाज़ आई. उस आवाज़ को वो बहुत खून जानता था.
"किरण" उसने धीरे से कहा
"ओह" दूसरी तरफ से लड़की ने कहा "आवाज़ पहचानते हो अब भी मेरी"

"तुम्हें कैसे भूल सकता हूँ" ख़ान के गुस्सा धीरे धीरे बढ़ रहा था "दोबारा
अगर मुझे फोन किया तो कसम खुदा की, इस बार घर में घुसके मारूँगा. डोंट पुट
माइ पेशियेन्स ऑन टेस्ट"

कहते हुए ख़ान ने फोन काट दिया. वो
जानता था के फोन फिर बजेगा इसलिए सेल स्विच ऑफ कर दिया. पुरानी यादें ताज़ा
होनी शुरू हुई तो वो सर पकड़कर बैठ गया.

"दिन काफ़ी लंबा रहा सर" आवाज़ आई तो ख़ान ने सर उठाकर देखा. वो हेड कॉन्स्टेबल शर्मा था.
"दिन भी और रात भी" ख़ान ने कहा "नींद आ रही है यार"
"लीजिए चाइ पीजिए" शर्मा ने चाइ का एक कप ख़ान के हाथ में दिया और उसके सामने बैठ गया.
"हिम्मत मानता हूँ लौंदे की सिर. घर में घुसके अपने चाचा को मार दिया" शर्मा ने कहा
"शर्मा मुझे नही लगता के जै ने मारा है ठाकुर को" ख़ान ने कहा "मुझे लगता है के वो बेचारा बस ग़लत टाइम पर ग़लत जगह पे पहुँच गया"
"ह्म्*म्म्म" शर्मा ने कहा "बयान क्या दिया उसने?"

ख़ान ने सामने रखी एक फाइल उठाई


"उसके हिसाब से वो हवेली पहुँचा तो ठाकुर साहब ऑलरेडी ज़मीन पर गिरे पड़े
थे. वो उनके करीब पहुँचा और उनको उठाने लगा के तभी घर की नौकरानी वहाँ आ
पहुँची और उसने चीख मारी जिसके चलते पुरुषोत्तम और तेज वहाँ आ गये. उन दोनो
को लगा के हमला खुद जै ने किया है इसलिए उन्होने उसको मारना शुरू कर दिया.
जान बचाकर जै भागता हुआ किचन में घुस गया और उसके बाद वहीं रहा जब तक हम
नही आ गये."

"ये मैं आपसे पुच्छना चाहता था सर" शर्मा ने कहा "हमें किसने इनफॉर्म किया के खून हुआ है?"
"हवेली से एक औरत ने फोन किया था" ख़ान बोला
"किसने?"

"फिलहाल पता नही. अब तक सबकी स्टेट्मेंट्स ली गयी हैं पर किसी ने इस बात
का इक़रार नही किया के वो फोन उसने किया था. मैं सबसे बात करूँगा अभी तो
शायद पता चल जाए" ख़ान बोला

कुच्छ देर तक दोनो खामोशी से चाइ पीते रहे.

"तुम्हें घर जाना होगा अब?" ख़ान ने थोड़ी देर बाद कहा "तुम भी तो कल रात से घर नही गये"

"जाऊँगा सर" शर्मा ने कहा "बीवी तो वैसे ही डंडा लिए बैठी होगी तो आराम से
जाऊँगा और कुच्छ रास्ते में खरीदके ले जाऊँगा ताकि उसका गुस्सा ठंडा हो"
शर्मा की बात पर दोनो हस्ने लगे.


"एक बात बताओ शर्मा" थोड़ी देर बाद ख़ान बोला "मैं यहाँ नया हूँ इसलिए
सिर्फ़ ठाकुर के 2 बेटो को जानता हूँ वो भी नाम से और जै को मैने कल पहली
बार देखा था. इससे पहले बस नाम ही सुना था. इसके अलावा किसी को नही
पहचानता. मैं सिर्फ़ नाम जानता हूँ के कल रात हवेली में कौन कौन था. उन
लोगों के बारे में तुम कुच्छ जानते हो?"

"मैं तो हमेशा से यहीं रहा हूँ सर" शर्मा ने कहा "यहीं पैदा हुआ और यहीं पाला बढ़ा. सबको जानता हूँ"
"तो बताओ कुच्छ इन लोगों के बारे में" ख़ान ने कहा


"हवेली में जब हम पहुँचे तो वहाँ कुल मिलाके 12 लोग थे, एक मुर्दा यानी के
ठाकुर साहब और 11 ज़िंदा यानी के उनका परिवार. जै हमें किचन मिला और बाकी
सब किचन के बाहर. वैसे एक बात बताइए सर, उस जै ने ये बताया के वो इतनी रात
को हवेली में करने क्या गया था?"
"यही एक बात नही बताई उसने" ख़ान
बोला "मैं बहुत पुछा पर जवाब नही दिया साले ने. बता देगा. अपनी जान प्यारी
है तो बताना पड़ेगा उसको"
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #9  
Old 06-18-2013, 06:56 AM
RAJESHGARG3399 RAJESHGARG3399 is offline
Junior Member
 
Join Date: Feb 2013
Posts: 7
Default सेक्सी जुल्म...

GOOD START
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #10  
Old 06-18-2013, 06:59 AM
bilandar7 bilandar7 is offline
Junior Member
 
Join Date: Apr 2013
Posts: 30
Default सेक्सी जुल्म...

ab ye haweli kitni baar post hogi? Accha CnP kar lete ho..
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
Reply

Thread Tools
Display Modes

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

BB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off

Forum Jump


All times are GMT -4. The time now is 05:13 AM.


Powered by vBulletin® Version 3.8.3
Copyright ©2000 - 2014, Jelsoft Enterprises Ltd.

Masala Clips

Nude Indian Actress Masala Clips

Hot Masala Videos

Indian Hardcore xxx Adult Videos

Indian Masala Videos

Uncensored Mallu & Bollywood Sex

Indian Masala Sex Porn

Indian Sex Movies, Desi xxx Sex Videos

Disclaimer: HotMasalaBoard.com DOES NOT claim any responsibility to links to any pictures or videos posted by its members. HotMasalaBoard has a strict policy regarding posting copyrighted videos. If you believe that a member has posted a copyrighted picture / video, please contact Hotman super moderator. Members are also advised not to post any clandestinely shot material.